Skip to content

Filters

  • Wo Phir Nahi Aai Rajkamal Prakashan

    Wo Phir Nahi Aai

    Bhagwaticharan Verma

    from ₹ 95.00

    "लेकिन शायद हम झूठ से अलग रह ही नहीं सकते | हमारा सामाजिक जीवन भी तो एक तरह का व्यापार है -- आर्थिक न भी सही, भावनात्मक व्यापार, यद्यपि ...

    View full details
    from ₹ 95.00
  • Chitralekha Rajkamal Prakashan

    Chitralekha

    Bhagwaticharan Verma

    from ₹ 209.00

    चित्रालेखा न केवल भगवतीचरण वर्मा को एक उपन्यासकार के रूप में प्रतिष्ठा दिलानेवाला पहला उपन्यास है बल्कि हिंदी के उन विरले उपन्यासों में भी गणन...

    View full details
    from ₹ 209.00
  • Pratinidhi Kahaniyan : Bhagwati Charan Verma Rajkamal Prakashan

    Pratinidhi Kahaniyan : Bhagwati Charan Verma

    Bhagwaticharan Verma

    from ₹ 75.00

    इस कथाकृति में सुविख्यात उपन्यासकार भगवतीचरण वर्मा की कुछ ऐसी चुनी हवई कहानियाँ दी गई हैं जिनका न केवल हिंदी में, बल्कि समूचे भारतीय कथा -साहि...

    View full details
    from ₹ 75.00
  • Dhuppal Rajkamal Prakashan

    Dhuppal

    Bhagwaticharan Verma

    from ₹ 116.00

    ‘धुप्पल’ यह एक निर्विवाद तथ्य है कि अपने कथा-कृतित्व में अनेकानेक व्यक्ति-चरित्रों को उकेर्नेवाले सधानाशील रचनाकारों का अपना जीवन भी किसिस महा...

    View full details
    from ₹ 116.00
  • Chanakya Rajkamal Prakashan

    Chanakya

    Bhagwaticharan Verma

    from ₹ 135.00

    चाणक्य सुविख्यात उपन्यासकार भगवतीचरण वर्मा की अन्तिम कथाकृति है । मगध-सम्राट महापदम नन्द और उसके पुत्रों द्वारा प्रजा पर जो अत्याचार किए जा रह...

    View full details
    from ₹ 135.00
  • Sabahin Nachavat Ram Gosain Rajkamal Prakashan

    Sabahin Nachavat Ram Gosain

    Bhagwaticharan Verma

    from ₹ 225.00

    भगवती बाबू ने अपने उपन्यासों में भारतीय इतिहास के एक लंबे कालखंड का यथार्थवादी ढंग से अंकन किया है। स्वतंत्रता-पूर्व और स्वातंत्रयोत्तर दौर की...

    View full details
    from ₹ 225.00
  • Samarthya Aur Seema Rajkamal Prakashan

    Samarthya Aur Seema

    Bhagwaticharan Verma

    from ₹ 225.00

    मनुष्य समर्थ है और समझता है कि इस सामर्थ्य का स्रोत वही है और वही इसका उपार्जन करता है ! वह केवल अपने सामर्थ्य को ही देखता है, अपनी सीमाओं को ...

    View full details
    from ₹ 225.00
  • Sidhi Sachchi Baaten Rajkamal Prakashan

    Sidhi Sachchi Baaten

    Bhagwaticharan Verma

    Original price ₹ 995.00
    Current price ₹ 896.00

    साहित्य अकादमी द्वारा पुरस्कृत श्रेष्ठ उपन्यास ‘भूले-बिसरे चित्र’ के विषय में आलोचकों ने कहा था - ‘‘एक महान कृति...

    View full details
    Original price ₹ 995.00
    Current price ₹ 896.00
  • Tedhe Medhe Raste Rajkamal Prakashan

    Tedhe Medhe Raste

    Bhagwaticharan Verma

    Original price ₹ 795.00
    Current price ₹ 699.00

    ‘टेढ़े मेढ़े रास्ते’ न केवल भगवतीचरण वर्मा के, बल्कि समग्र हिन्दी-कथा साहित्य के गिने-चुने श्रेष्ठतम उपन्यासों में एक ...

    View full details
    Original price ₹ 795.00
    Current price ₹ 699.00
  • Sampurna Natak : Bhagwaticharan Verma Rajkamal Prakashan

    Sampurna Natak : Bhagwaticharan Verma

    Bhagwaticharan Verma

    Original price ₹ 650.00
    Current price ₹ 585.00

    भगवतीचरण वर्मा बहुमुखी प्रतिभा के धनी रचनाकार थे। अपने विचारों और जीवनानुभवों को उन्होंने उपन्यास, कहानी, कविता और नाट...

    View full details
    Original price ₹ 650.00
    Current price ₹ 585.00
  • Bhagwaticharan Verma Ki Sampurna Kahaniyan Rajkamal Prakashan

    Bhagwaticharan Verma Ki Sampurna Kahaniyan

    Bhagwaticharan Verma

    Original price ₹ 895.00
    Current price ₹ 799.00

    लब्धप्रतिष्ठ कथाकार भगवतीचरण वर्मा की कहानियों में हमारे जीवन के सुख-दु:ख, प्रेम-घृणा, अहं, अंध-आस्था, राजनीति का छिछोरापन औ...

    View full details
    Original price ₹ 895.00
    Current price ₹ 799.00
  • Prashna Aur Marichika Rajkamal Prakashan

    Prashna Aur Marichika

    Bhagwaticharan Verma

    Original price ₹ 895.00
    Current price ₹ 799.00

    भूले बिसरे चित्र और सीधी सच्ची बातें के बाद भगवती बाबू की एक और बृहद् औपन्यासिक कृति...भारत के निकट अतीत के इतिहास को कथा के माध्य...

    View full details
    Original price ₹ 895.00
    Current price ₹ 799.00
  • Rekha Rajkamal Prakashan

    Rekha

    Bhagwaticharan Verma

    from ₹ 225.00

    व्यक्ति के गुह्यतम मनोवैज्ञानिक चरित्र-चित्रण के लिए सिद्धहस्त प्रख्यात लेखक भगवतीचरण वर्मा ने इस उपन्यास में शरीर की भूख से पीड़ित एक आधुनिक, ...

    View full details
    from ₹ 225.00
  • Bhoole Bisre Chitra Rajkamal Prakashan

    Bhoole Bisre Chitra

    Bhagwaticharan Verma

    from ₹ 399.00

    एक महान् कृति, भारतीय समाज और परिवार के विकास की विविध दिशाओं और रूपों का एक विराट एवं प्रभावोत्पादक चित्र। -डॉ. एस. एन. गणेशन निकट अतीत के चित्रों...

    View full details
    from ₹ 399.00