BackBack

Dastan Mughal Badshahon Ki

by Heramb Chaturvedi

PaperbackPaperback
HardcoverHardcover
Rs 195.00
Description
इतिहास के समकालीन पन्ने भी सामान्य पाठक और हिंन्दी माध्यम वाले छात्रों के लिए खुलें तो इतिहास के अवसान की घोषणा करने वालों की आवाज मन्द ही नहीं पडेगी, अपितु बन्द ही हो जायेगी । इतिहास नयी ताजगी के साथ जीवित रहे उसके लिए भी वापस उसी विषय की निगाह से उसे फिर देखा जाये, जिसके साथ वह 19वीं सदी तक चलता रहा था, जब तक इसका वर्गीकरण इस प्रकार से नहीं हुआ था । मॉमसेन के विषय में हम सब जानते है जिस इतिहासकार को उसकी कृति रोम के इतिहास पर 20वीं सदी के पहले दशक के अन्त में साहित्य का नोबेल पुरस्कार मिला था । उसी तरह का इतिहास दिलचस्प भी होगा और अपने तथ्यों के साथ ईमानदार भी होगा ।