Skip to content

Dogri Ki Chuni Hui Kahaniyaan

by Kamleshwar
Original price ₹ 325.00
Current price ₹ 299.00
Binding
Product Description

डोगरी भाषा का कोई एक विशेष जन्म स्थान नहीं माना जा सकता। यह जम्मू एवं कश्मीर और पंजाब के कई इलाकों में बोली जाती है और शायद यही कारण है कि डोगरी पर पंजाबी और उर्दू दोनों भाषाओं का बहुत प्रभाव पड़ा और जो उसके साहित्य में भी दिखता है। ओम गोस्वामी, विष्णुनाथ खजूरिया, शिवदेव मनहास, तारा दानपुरे डोगरी के जाने-माने नाम हैं। उनकी और अन्य डोगरी लेखकों की चुनी हुई कहानियाँ इस पुस्तक में संकलित हैं जिनका चुनाव हिन्दी के प्रसिद्ध साहित्यकार कमलेश्वर ने किया है और साथ ही एक विस्तृत भूमिका भी लिखी है।