Skip to product information
1 of 1

Jhoola Nat

Jhoola Nat

by Maitriye Pushpa

Regular price Rs 89.10
Regular price Rs 99.00 Sale price Rs 89.10
Sale Sold out
Shipping calculated at checkout.
Binding

Language: Hindi

Number Of Pages: 162

Binding: Paperback

गाँव की साधारण–सी औरत है शीलोµन बहुत सुंदर और न बहुत सुघड़–––लगभग अनपढ़µन उसने मनोविज्ञान पढ़ा है, न समाजशास्त्र जानती है । राजनीति और स्त्री–विमर्श की भाषा का भी उसे पता नहीं है । पति उसकी छाया से भागता है । मगर तिरस्कार, अपमान और उपेक्षा की यह मार न शीलो को कुएँ–बावड़ी की ओर धकेलती है, और न आग लगाकर छुटकारा पाने की ओर । वशीकरण के सारे तीर–तरकश टूट जाने के बाद उसके पास रह जाता है जीने का नि:शब्द संकल्प और श्रम की ताकत एक अडिग धैर्य और स्त्री होने की जिजीविषा–––उसे लगता है कि उसके हाथ की छठी अंगुली ही उसका भाग्य लिख रही है–––और उसे ही बदलना होगा । झूला नट की शीलो हिंदी उपन्यास के कुछ न भूले जा सकने वाले चरित्रों में एक है । बेहद आत्मीय, पारिवारिक सहजता के साथ मैत्रेयी ने इस जटिल कहानी की नायिका शीलो और उसकी ‘स्त्री–शक्ति’ को फोकस किया है––– पता नहीं झूला नट शीलो की कहानी है या बालकिशन की ! हाँ, अंत तक, प्रकृति और पुरुष की यह ‘लीला’ एक अप्रत्याशित उदात्त अर्थ में जरूर उद्भासित होने लगती है । निश्चय ही झूला नट हिंदी का एक विशिष्ट लघु–उपन्यास है–––
View full details

Recommended Book Combos

Explore most popular Book Sets and Combos at Best Prices online.