Skip to product information
1 of 7

Saiyed Koun? (Urdu) Ek Paigham Saadaat Ke Naam, A Book on the Significance of Sayyid Family (Khandan-e-Ahle-Bait) in Islam

Saiyed Koun? (Urdu) Ek Paigham Saadaat Ke Naam, A Book on the Significance of Sayyid Family (Khandan-e-Ahle-Bait) in Islam

by PEER SAIYED BADREALAM A BUKHARI

Regular price Rs 2,100.00
Regular price Rs 2,100.00 Sale price Rs 2,100.00
Sale Sold out
Shipping calculated at checkout.

Author: PEER SAIYED BADREALAM A BUKHARI

Languages: Urdu

Number Of Pages: 546

Binding: Hardcover

Release Date: 25-04-2023

یہ کتاب 'سید کون؟ '  سید کے مراتب ، اہل بیت اطہار کی محبت ، قرآن کریم او احادیث کی روشنی میں نسب کی اہمیت و فضیلت ، حرمتِ ذریت رسول ، سید زادی سے نکاح  جیسے موضوعات  پر مشتمل ہے۔ اس کتاب کا مقصد عوام تک معلومات پہنچانا اور اصلاح کرنا ہے۔ यह किताब “सैय्यद कौन?” की जिल्द है जो सैय्यद के मरातिब, अहले बैत अतहार की मोहब्बत, क़ुरआन करीम व अहादीस की रोशनी में नसब की अहमियत व फ़ज़ीलत, हुरमते ज़ुर्रियते रसूल सल्लल्लाहो अलैहे व आलेही व सल्लम, सैय्यदज़ादी से निकाह जैसे मौज़ूआत पर मुश्तमिल है । यह उन लोगों के लिए भी एक सबक़ आमूज़ दस्तावेज़ है जो सिर्फ दुनियावी शानो-शौकत हासिल करने के लिए सैय्यद होने का झुठा दा’वा करते हैं । एसे झूठे दा’वे करने वालों पर ला’नत होती है अल्लाह तआला की, फ़रिश्तों की और तमाम लोगों की और क़यामत के दिन अल्लाह तआला उनकी ना तौबा क़बुल फरमाएगा और ना कोई फ़िदया, इसलिए बराए मेहरबानी अपना बेशक़िमती सुकून बर्बाद ना करें । इस मौज़ू’ पर मवाद बेशुमार कुतुब से अख़ज़ करना शुरू किया और एक जामेअ किताब आपके मुतालआ के लिए हाज़िर है । क्या आपको पता है? -सादात से लड़ाई रसूलल्लाह सल्लल्लाहो अलैहे व आलेही व सल्लम से लड़ाई है -सादात को देखकर दुरूद शरीफ़ पढ़ने से समाअत व बसारत में इज़ाफ़ा होता है -सादात को इज़ा (तक़्लीफ़) देने वाले की नबी पाक सल्लल्लाहो अलैहे व आलेही व सल्लम शफ़ाअत नहीं फरमाएँगे -सैय्यद गुनाहगार भी क़ाबिले एहतेराम है -सादात की मदद करने वाला शफ़ाअते रसूले ख़ुदा सल्लल्लाहो अलैहे व आलेही व सल्लम का हक़दार है -ग़ैर सैय्यद, सैय्यद होने का दा’वा करेगा तो उस पर अल्लाह की ला’नत होगी -सैय्यद ग़ैर सैय्यद का मुरीद नहीं हो सकता -बा-पर्दा सैय्यदज़ादी की तरफ नज़र करना भी अज़ियते रसूले ख़ुदा सल्लल्लाहो अलैहे व आलेही व सल्लम का बाएस है

Related Categories:

View full details

Recommended Book Combos

Explore most popular Book Sets and Combos at Best Prices online.